कर्ज में डूबे किसान ने मौत को लगाया गले-सुसाईड नोट में लिखी वजह…….

0
576
views

दैनिक रूड़की ब्यूरो::-

रुड़की। लक्सर कोतवाली क्षेत्र के ढाढेकी गांव निवासी 65 वर्षीय किसान ईश्वरचंद ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। मृतक की जेब से मिले सुसाइड नोट के अनुसार वह कर्ज से परेशान था। और इसके लिए उसने सरकार को दोषी ठहराया है। घटना के बाद गांव में कोहराम मचा हुआ है वहीं प्रशासन में भी हड़कम्प की स्तिथि है।

लक्सर के ढाढेकी गांव में उस वक्त हड़कंप मच गया जब 65 वर्षीय किसान ईश्वरचन्द्र ने जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया और उसकी हालत बिगड़ गई। परिजन उसे आनन-फानन में पहले लक्सर फिर रुड़की के एक अस्पताल लेकर गए। लेकिन इसी बीच ईश्वर ने दम तोड़ दिया।
उसके परिजनों को उसकी जेब से एक सुसाइड नोट मिला। जिसे पढ़ने के बाद उनके पैरों तले की जमीन खिसक गई। ईश्वर ने अपनी मौत के लिए कर्ज वसूलने को लेकर जा रहे दबाव को वजह बताया। साथ ही सरकार को भी इसका दोषी ठहराया है। बताया जा रहा है कि ईश्वर ने बैंक से लाखों का कर्ज लिया हुआ था, जिसे उसने लौटा दिया था। लेकिन बैंक के एक दलाल ने उसकी कर्ज राशि खुद डकार ली। ईश्वर से एडवांस में लिए गए चेक को बैंक से बाउंस कराकर उसके खिलाफ कोर्ट में मुकदमा दायर कर दिया था। इसके बाद बैंक दलाल ने ईश्वर पर पैसे को लेकर लगातार दबाब बनाया।

वहीं, घटना की सूचना मिलते ही सीओ लक्सर राजन सिंह और कोतवाल वीरेंद्र नेंगी ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया। साथ ही पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सीओ का कहना है कि सुसाइड नोट और मृतक के परिजनों के बयानों के आधार पर मामले की गहनता से छानबीन की जा रही है। इसके बाद ही आगे की करवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here